Mujhe Viswas Hai (Literary Reminicences) / मुझे विश्वास है (साहित्यिक संस्मरण)
Author
: Vimal Mitra
Language
: Hindi
Book Type
: General Book
Category
: Hindi Memoirs, Travellogue, Diary, Sketch, Reportes etc.
Publication Year
: 1985
ISBN
: 9VPMVHH
Binding Type
: Hard Bound
Bibliography
: xvi + 304 Pages, Size : Demy i.e. 22 x 14 Cm.

MRP ₹ 60

Discount 15%

Offer Price ₹ 51

OUT OF STOCK

विमल मित्र बंगला के सुप्रसिद्ध उपन्यासकार हैं। बंगला में लोकप्रिय होने के साथ भारत की प्रमुख भाषाओं के पाठकों में भी उतने ही लोकप्रिय हैं। विमल मित्र के अनेक उपन्यास हिन्दी, मलयालम, गुजराती, मराठी, उडिय़ा, असमिया आदि भाषाओं मेंं अनूदित हो चुके हैं। इस लोकप्रिय उपन्यासकार का अन्तर्मन क्या है, कैसे लेखक बना, किसने कैसे, कब कहाँ प्रेरित, प्रोत्साहित या हतोत्साहित किया, उसकी मर्मकथा है - मुझे विश्वास है। अर्थात् लेखक का विश्वास कैसे तत्त्वों से जूझता रहा है - इसकी संघर्ष-गाथा पढि़ए - मुझे विश्वास है। उपन्यासों की प्रेरणा कहाँ से मिली, पात्र कहाँ से मिले, किन घटनाओं ने प्रभावित किया, यह संस्मरणों का विषय है। उपन्यास कहानी से भी कहीं रोचक, लेखक के जीवन की अपनी कहानी उपन्यास की मनोरम शैली में।