Antaryatra / अन्तर्यात्रा
Author
: Gopinath Kaviraj
Language
: Hindi
Book Type
: General Book
Category
: Adhyatmik (Spiritual & Religious) Literature
Publication Year
: 2021
ISBN
: 8121700906
Binding Type
: Paper Back
Bibliography
: viii + 144 Pages; Size : Demy i.e. 22 x 14 Cm.

MRP ₹ 175

Discount 10%

Offer Price ₹ 158

<div align="center"><font size="5" color="800000"><b>अन्तर्यात्रा</b></font></div><div align="center"><font size="4" color="003366">डा. गोपीनाथ कविराज</font></div><div align="left"><font size="3" color="003366">महामहोपाध्याय डा. गोपीनाथ कविराज महोदय ने समय-समय पर अन्तर्यात्रा के जिस स्वरूप का प्रत्यक्ष मध्यमा भूमि में किया था, उसी का शब्दचित्र प्रस्तुत ग्रन्थ में अंकित है। यह उपदेश समय-समय पर विभिन्न स्तरीय जिज्ञासुओं को दिया गया था। इस कारण इसमें क्रमबद्धता एवं तारतम्य न होने पर भी, यह अभ्रान्त तथा व्यापक दृष्टि के सम्मुख आर्विभूत प्रकाशरूपता से युक्त है, अत: उपादेय है। आप्तपुरुष द्वारा उपदिष्ट होने के कारण आप्त प्रमाण के रूप में सर्वजन ग्राह्य भी है। जो साक्षात्कृत धर्मा है, जिन्होंने अखण्ड महाकाल के आश्रय में परमास्थिति का साक्षात्कार किया है, उनका प्रत्यक्ष ही यथार्थ प्रत्यक्ष है। इस प्रत्यक्ष का महत्व शास्त्र के समान निर्भ्रान्त तथा सार्वभौम रहता है। </font><br></div>